मकान मलिक ने मम्मी को रखैल बनाया

0
Loading...

प्रेषक : विक्की

हैल्लो फ्रेंड्स मेरा नाम विक्की है और आज में आपको एक ऐसी सच्ची स्टोरी बताने जा रहा हूँ जो मेरी माँ की चुदाई की है। लेकिन उससे पहले में आपको मेरी मम्मी के बारे में कुछ बता देता हूँ। दोस्तों मेरी मम्मी का नाम वर्षा है और वो बहुत ही सुंदर औरत है उनकी उम्र 39 साल की है लेकिन उनका शरीर बिल्कुल फिट है और उनको देखकर नहीं लगता है कि वो 39 साल की है.. उनके बूब्स बहुत ही बड़े बड़े है और उनकी गांड बिल्कुल गोल गोल है। फिर मेरी मम्मी मुझे अपने साथ मार्केट लेकर जाती थी.. तो सारे अंकल मम्मी को देखते ही रह जाते थे। वो सारे मेरी मम्मी को चोदना चाहते थे.. वो लोग मेरी मम्मी को घूर घूर कर देखते ही रहते थे। मेरी मम्मी अधिकतर टाईम सलवार सूट ही पहनती थी। मम्मी की कुरती में से उनके बूब्स गजब के दिखते थे और सारे मोहल्ले के अंकल मेरी मम्मी के हुस्न के दीवाने थे।

दोस्तों यह उस समय की कहानी है.. जब मेरे पापा को एक बड़े प्रॉजेक्ट के काम से एक साल के लिए बाहर जाना पड़ा और में और मेरी मम्मी अकेले ही घर पर रह गये थे। फिर हम जिस घर में रहते थे उसके ऊपर वाले कमरों में हमारा मकान मलिक रहता था और उसकी बीवी कुछ समय पहले गुजर गई थी और फिर वो बिल्कुल अकेला ही रह गया था। मेरे मकान मलिक का नाम रमेश था। हमारा मकान मलिक मेरी मम्मी को बहुत घूरकर देखता था और वो मम्मी को बहुत ही पसंद करता था। फिर पापा को गये हुए बहुत दिन हो गये थे और फिर मम्मी अपने बचाए हुए पैसों में से घर का किराया दे दिया करती थी लेकिन धीरे धीरे हमे पैसों की कमी होने लगी और किराया देने में बहुत प्राब्लम होने लगी।

फिर मेरी मम्मी ने मेरे मकान मलिक से बात की.. वो कुछ दिन का समय दे दे। फिर उसने कहा कि ठीक है। फिर कुछ दिन तक ऐसा ही चलता रहा दो महीने बाद मेरा मकान मलिक आया और उसने पैसों के लिए पूछा। तभी मम्मी ने कहा कि अभी नहीं है लेकिन वो दे देंगी लेकिन उसने कहा कि नहीं बहुत दिन हो गये है अब वो और दिन नहीं रुक सकता है और उसने मम्मी से घर छोड़ देने के लिए कहा। तभी मम्मी रोने लगी और उन्होंने कहा कि प्लीज कुछ दिन और रुक जाइए.. में पैसे दे दूँगी.. लेकिन वो मानने वाला नहीं था लेकिन मम्मी के बहुत रोने पर उसने कहा कि ठीक है में रुक जाता हूँ लेकिन इसके बदले में कुछ लूँगा। तभी मम्मी ने कहा कि आप जो बोलेंगे में वो दे दूँगी लेकिन प्लीज आप कुछ दिन और रुक जाइए।

फिर मेरा मकान मलिक मम्मी के पास आया और वो मम्मी को चुप करने लगा और वो मम्मी से कहने लगा कि रोने की ज़रूरत नहीं है। फिर उसने मम्मी को सोफे पर बैठा दिया और मम्मी के आँसू पोंछने लगा। तभी मैंने देखा कि वो मम्मी के गालो को छू रहा है और फिर उसने एक हाथ मेरी मम्मी के बूब्स पर रख दिया। तभी मम्मी ने कहा कि यह क्या कर रहे है आप? फिर उसने मम्मी से कहा कि अगर घर में रहना है तो मुझसे चुदवाना पड़ेगा। तभी मम्मी ने कहा कि यह क्या कह रहे है आप? यह नहीं हो सकता। फिर उसने मम्मी से कहा कि ठीक है आप यहाँ से चले जाओ। तभी मम्मी उसकी तरफ देखने लगी और में दूसरे रूम से खड़ा होकर सब देख रहा था।

फिर मम्मी ने कहा कि ठीक है लेकिन अभी नहीं अभी मेरा बेटा देख लेगा.. में रात में आउंगी। तभी उसने कहा कि ठीक है। फिर अंकल चले गये और में भी तैयार होकर स्कूल चला गया लेकिन में यही सोच रहा था कि आज अंकल मम्मी को चोद देंगे। फिर में घर वापस गया मैंने अपना स्कूल का काम टाईम पर खत्म करके में खाना खाने लगा। फिर उस समय मम्मी नहाने गई हुई थी। फिर मम्मी जब मम्मी बाहर निकली तो मैंने देखा कि मम्मी ने सफेद कलर का सलवार सूट पहन रखा था और मम्मी का सूट बिल्कुल पारदर्शी था जिसमे से उनकी लाल रंग की ब्रा दिख रही थी और मम्मी गजब की सेक्सी लग रही थी। फिर मैंने देखा कि मम्मी तैयार हो रही थी। तभी मैंने मम्मी से पूछा कि मम्मी आप कहीं जा रही हो क्या? फिर मम्मी ने कहा कि हाँ बेटा में एक पार्टी में जा रही हूँ और तुम सो जाओ।

फिर मैंने कहा कि ठीक है और में सोने चला गया लेकिन मेरे दिमाग़ में अंकल की बात चल रही थी कि आज वो मेरी मम्मी को चोद देंगे। फिर कुछ देर बाद मम्मी बाहर निकल गयी और फिर अंकल के कमरे की तरफ चली गयी। फिर में थोड़ी देर तक ऐसे ही बेड पर लेटा रहा और फिर में उठा और गेट खोला और फिर मम्मी के पीछे पीछे चला गया। तभी मैंने देखा कि मम्मी अंकल के कमरे के अंदर चली गई और फिर अंकल ने गेट बंद कर दिया। तभी में वहीं पर बनी एक खिड़की से जब देखने लगा। फिर मम्मी सोफे पर जाकर बैठ गयी और अंकल भी वहीं पर मम्मी के पास में जाकर बैठ गये और मम्मी से बातें करने लगे। फिर मैंने देखा कि अंकल मम्मी को घूर घूरकर देख रहे थे और फिर अंकल मम्मी के पास में बैठ गये।

फिर अंकल ने मम्मी की जांघो पर हाथ रख दिया और सहलाने लगे मम्मी कुछ डरी हुई नज़र आ रही थी क्योंकि पहली बार मम्मी किसी गैर मर्द से चुदने जा रही थी। फिर अंकल ने मम्मी का गाल पकड़ लिया और फिर मम्मी के होंठो को अपने होंठो में सटा लिया और फिर चूमने लगे और मम्मी के होंठो को चूसने लगे। तभी मैंने देखा कि अंकल मम्मी की लिपस्टिक को चाट रहे थे। फिर मेरी मम्मी ने अंकल के गले को पकड़ रखा था और वो भी अंकल का साथ दे रही थी। फिर अंकल मेरी मम्मी के गले पर किस करने लगे और मम्मी को भी बहुत मज़ा आ रहा था और फिर उन्होंने अंकल के बाल पकड़ रखे थे। फिर अंकल ने मम्मी को खड़ा कर दिया और फिर दीवार से चिपका कर खड़ा कर दिया और मम्मी के गले पर किस करने लगे मम्मी आआ आआहह कर रही थी और अंकल जानवरों की तरह मेरी मम्मी को चूम रहे थे। तभी थोड़ी देर तक ऐसे ही मेरी मम्मी को किस करने के बाद अंकल ने अपने दोनों हाथों को पीछे कर दिया और मेरी मम्मी की कुरती ऊपर उठाकर सलवार के ऊपर से मम्मी के चूतड़ मसलने लगे। तभी मैंने देखा कि मम्मी की सलवार बिल्कुल पारदर्शी थी और उन्होंने लाल कलर की पेंटी पहन रखी थी।

फिर अंकल मेरी मम्मी के चूतड़ो को मसले जा रहे थे। तभी अंकल ने मम्मी से कहा कि वर्षा जब से मैंने तुम्हे देखा है तब से तुम्हे चोदना चाहता था लेकिन किस्मत ने साथ नहीं दिया और आज में तेरी चूत फाड़ दूँगा। फिर अंकल ने मेरी मम्मी को अपने कंघे पर उठा लिया और अपने बेड रूम में लेकर चले गये.. अंकल का शरीर बहुत अच्छा है इसलिए मेरी मम्मी को उठाने में उन्हे ज्यादा प्राब्लम नहीं हुई। फिर में भी बेडरूम की खिड़की पर चला गया और रूम में देखने लगा। तभी मैंने देखा कि अंकल ने मेरी मम्मी को बेड पर पटक दिया और बेड पर गिरते ही मेरी मम्मी के बूब्स हिलने लगे। फिर अंकल ने अपने सारे कपड़े उतार लिए और मम्मी के सामने बिल्कुल नंगे हो गये। अंकल का लंड बहुत बड़ा था.. उनका लंड 7 इंच लंबा था और बहुत मोटा था.. बिल्कुल काले रंग का लंड था।

तभी मम्मी अंकल का लंड देखकर डर गयी। फिर अंकल मम्मी के पास गये और उन्होंने अपना लंड मेरी मम्मी के मुहं में दे दिया। फिर मम्मी अंकल के लंड को चूसने लगी। तभी थोड़ी देर में मम्मी ने अंकल का पूरा लंड अपने मुहं में ले लिया और अंदर बाहर करने लगी। फिर मैंने अंकल की तरफ देखा अंकल अह अह कर रहे थे और मेरी मम्मी के बूब्स को मसल रहे थे। फिर मम्मी कभी अंकल के लंड को चूसती थी तो कभी उनके लंड को सहलाती थी। फिर अंकल ने अपना लंड मम्मी के मुहं से निकाल दिया और उन्होंने मेरी मम्मी का कुर्ता निकाल कर ज़मीन पर फेंक दिया। तभी मैंने देखा कि मम्मी ने लाल कलर की ब्रा पहनी रखी थी। फिर अंकल ने मेरी मम्मी की ब्रा का हुक खोल दिया। तभी वो कमर के ऊपर से बिल्कुल नंगी थी। फिर मैंने पहली बार मम्मी के नंगे बूब्स को देखा था और मम्मी के निप्पल बिल्कुल भूरे कलर के थे। फिर अंकल तो मेरी मम्मी के बूब्स को देखते ही रह गये मम्मी के बूब्स बिल्कुल गोल गोल थे। फिर अंकल ने मेरी मम्मी को लेटा दिया और मैंने देखा कि अंकल ने तकिया मेरी मम्मी की पीठ के नीचे लगा दिया जिससे उनके बूब्स और तन गए।

Loading...

फिर मेरी मम्मी ने अपने हाथ पीछे कर रखे थे और बेड को पकड़ रखा था। तभी अंकल मम्मी के पास में लेट गये और उन्होंने मेरी मम्मी के एक बूब्स को चूसना शुरू कर दिया। फिर अंकल बड़े मज़े से मेरी मम्मी के एक बूब्स को चूस रहे थे और दूसरे बूब्स को अपने हाथ से मसल रहे थे और मम्मी आआ…आआ ससस्स…ईईए…उई माँ कर रही थी। तभी अंकल समझ गये थे कि मम्मी को भी बहुत मज़ा आ रहा था। फिर अंकल ज़ोर ज़ोर से मेरी मम्मी के बूब्स को चूस रहे थे और मसल रहे थे। तभी अंकल ने अपने एक हाथ से मेरी मम्मी के पेट को सहलाना शुरू किया और फिर उन्होंने मेरी मम्मी के सलवार का नाड़ा खोल दिया। तभी मम्मी की सलवार थोड़ी ढीली हो गई और फिर मैंने देखा कि अंकल ने अपना एक हाथ मेरी मम्मी की सलवार के अंदर डाल दिया और पेंटी के ऊपर से मेरी मम्मी की चूत को सहलाने लगे। फिर मम्मी आआ…आआ….हह मरी में कर रही थी और अंकल मज़े के साथ मेरी जवान मम्मी के जिस्म के साथ खेल रहे थे और वो एक हाथ से मेरी मम्मी के बूब्स मसल रहे थे तो दूसरे बूब्स को चूस रहे थे और अपने एक हाथ से मम्मी की चूत रगड़ रहे थे। तभी थोड़ी देर तक ऐसा करने के बाद अंकल ने मम्मी की सलवार को खींच कर निकाल दिया और फिर मम्मी सिर्फ़ लाल रंग की पेंटी में अंकल के सामने थी। तभी अंकल उठकर बैठ गये और उन्होंने मेरी मम्मी की पेंटी निकाल ली। तभी मैंने देखा कि अंकल मेरी मम्मी की नंगी चूत को देख रहे थे। फिर मैंने अपनी मम्मी की चूत की तरफ देखा मम्मी की चूत पर एक भी बाल नहीं था। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

तभी अंकल ने मेरी मम्मी की नंगी चूत पर अपना हाथ रखा दिया और मम्मी सिहर गई। फिर अंकल ने मम्मी से पूछा कि वर्षा तेरी चूत तो बहुत टाईट है तुम कब से नहीं चुदी हो? फिर मम्मी ने कहा कि बहुत दिन हो गये है और मेरी चूत बहुत दिनों से लंड के लिए तरस रही है। फिर अंकल ने कहा कि कोई बात नहीं में आज से रोज़ हर समय चोदूंगा। फिर अंकल ने मेरी मम्मी की चूत में अपना लंड सटाकर मेरी मम्मी के होंठ चूमने लगे। तभी मम्मी के मुहं से अह्ह्ह ओह्ह्ह मरी में की आवाज़े निकलने लगी। तभी मैंने देखा कि अंकल ने मम्मी की चूत में अपना आधा लंड डाल दिया है और उसे अंदर बाहर कर रहे है और मम्मी ने अपने हाथ से अंकल के बाल पकड़ रखे थे और सिसकियाँ ले रही थी।

तभी थोड़ी देर तक अंकल ऐसे ही मेरी मम्मी की चूत को चोदते रहे। फिर मैंने देखा कि मम्मी की चूत से पानी गिरने लगा और मम्मी ने अंकल से कहा कि रमेश प्लीज़ अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है चोद दो मुझे। फिर अंकल ने कहा कि रानी आज तो में तुझे रात भर चोदुंगा। फिर अंकल घुटनो के बल बैठ गये और मैंने देखा कि अंकल ने अपने एक हाथ से अपने लंड को पकड़ रखा था और अपने लंड को मेरी मम्मी की चूत पर सटा कर रगड़ रहे थे और मम्मी ने अपने दोनों हाथ पीछे करके तकिये को पकड़ रखा था। फिर मैंने देखा कि अंकल ने एक झटका दिया और मम्मी जोर से चीख पड़ी उई ईईइ अह्ह्ह माँ मुझे बचाओ। मम्मी की चूत बहुत टाईट थी जिसकी वजह से अंकल का मोटा लंड मेरी मम्मी की चूत में पूरा नहीं गया।

तभी मैंने देखा कि अंकल किचन से तेल लेकर आए उन्होंने थोड़ा सा तेल अपने लंड पर लगाया और थोड़ा मेरी मम्मी की चूत पर लगाया। तभी उन्होंने फिर से एक जोर का झटका दिया और फिर अंकल के लंड का टोपा मम्मी की चूत के अंदर चला गया था। फिर अंकल ने धीरे धीरे अपनी कमर हिलाना शुरू कर दिया। अब अंकल का आधा लंड मेरी मम्मी की चूत के अंदर बाहर हो रहा था। तभी अंकल ने मेरी मम्मी के दोनों घुटनो को पकड़ लिया और अपनी कमर हिला रहे थे और मम्मी धीरे धीरे ओफफफफ्फ़ अह्ह्ह ससस्स्सस्स म्रीईईईईईई धीरे धीरे प्लीज़ बहुत दर्द हो रहा है कर रही थी। फिर मम्मी की ऐसी आवाज़े सुनकर अंकल ने पूरी ताक़त से एक जोरदार धक्का दिया और फिर मैंने देखा कि अंकल का पूरा लंड एक बार में ही मेरी मम्मी चूत में चला गया। फिर अंकल आगे की तरफ झुक गये और अपना हाथ बेड पर रख लिया और मम्मी को चोदने लगे अंकल का पूरा लंड मेरी मम्मी की चूत के अंदर बाहर हो रहा था और वो मम्मी से कहने लगे कि वर्षा तेरी चूत में बहुत गर्मी है मज़ा आ गया.. बहुत दिन बाद ऐसी गरम चूत मिली है और आज में तुझे जी भरकर चोदूंगा और वो मम्मी की चुदाई करने लगे।

फिर मम्मी को भी अब बहुत मज़ा आ रहा था मम्मी ने उनसे कहा कि में भी बहुत दिनों से नहीं चुदी हूँ और आज मेरी प्यास बुझा दे राज़ा और ज़ोर से चोद मुझे.. ज़रा और ताक़त लगा। फिर अंकल मम्मी के ऊपर लेट गये उन्होंने अपने दोनों हाथों से मेरी मम्मी के बूब्स पकड़ लिए और मसलने लगे और मेरी मम्मी की चूत को चोदने लगे। फिर अंकल ने अपनी पूरी ताक़त से मम्मी को चोदना शुरू कर दिया और पूरे रूम में मेरी मम्मी की सिसकियों की आवाज़ गूँज रही थी। तभी मम्मी चूतड़ उठा उठाकर अंकल से चुदवा रही थी। तभी थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि अंकल ने एक ज़ोर का झटका दिया और मम्मी के ऊपर ही लेट गये। तभी में समझ गया था कि अंकल ने अपना पूरा का पूरा वीर्य मेरी मम्मी की चूत में ही गिरा दिया है। फिर वो मेरी मम्मी को चूमने लगे और अपना लंड धीरे धीरे मेरी मम्मी की चूत में डालने लगे। फिर करीब 5 मिनट बाद अंकल मम्मी के ऊपर से हट गये और वहीं पर पास में लेट गये और मम्मी भी वहीं पर नंगी लेटी हुई थी।

फिर मैंने देखा कि अंकल ने अपने एक हाथ में मेरी मम्मी की पेंटी पकड़ रखी है और उसे सूंघ रहे थे और दूसरे हाथ से मेरी मम्मी के बूब्स मसल रहे थे। तभी कुछ देर बाद अंकल ने मेरी मम्मी को अपनी तरफ खींच लिया और मम्मी को अपनी छाती से चिपका लिया और फिर मम्मी को चूमने लगे। तभी मैंने सुना अंकल मेरी मम्मी से कह रहे थे कि वर्षा अगर तू मुझसे रोज़ चुदवाएगी तो में कभी भी तुझसे किराया नहीं लूँगा। फिर मम्मी ने कहा कि सच क्या ऐसा हो सकता है? फिर उन्होंने कहा कि हाँ ऐसा हो सकता है लेकिन तुझे मेरी रखैल बनकर रहना पड़ेगा बोल क्या तू बनेगी मेरी रखैल? फिर मम्मी ने कहा कि ठीक है और फिर दोनों एक दूसरे को किस करने लगे। फिर मैंने देखा कि मम्मी अपने हाथों से अंकल का लंड सहला रही थी और अंकल अपने हाथों से मेरी मम्मी की चूत रगड़ रहे थे और मेरी मम्मी के होंठो को चूस रहे थे। फिर उन्होंने मेरी मम्मी को उल्टा लेटा दिया फिर मुझे मम्मी के गोल गोल चूतड़ दिख रहे थे। अंकल मेरी मम्मी की जांघो पर बैठे हुए थे और फिर उन्होंने अपने दोनों हाथों से मेरी मम्मी के चूतड़ को फैला दिया था। तभी मैंने देखा कि अंकल ने अपनी दो उंगलियां मेरी मम्मी की गांड के छेद में डाल दी है और उन्हें अंदर बाहर कर रहे थे और फिर मम्मी ने बेड शीट को पकड़ रखा था। फिर अंकल ने मेरी मम्मी की गांड के छेद पर थोड़ा सा थूक लगा दिया जिससे उनकी उंगली आसानी से अंदर बाहर हो रही थी। फिर अंकल मेरी मम्मी की गांड सूंघने लगे और चाटने लगे। फिर मैंने देखा कि अंकल ने अपना लंड मेरी मम्मी की गांड के छेद में डाला और वो मम्मी की गांड चुदाई में व्यस्त हो गये और मम्मी अह्ह्ह उह्ह्ह्ह कर रही थी और उन्हे बहुत मज़ा आ रहा था। फिर मैंने देखा कि अंकल ने तकिया मम्मी के बीच में रख दिया जिससे मम्मी की गांड और ऊपर की तरफ उठ गयी थी। फिर अंकल मेरी सेक्सी मम्मी की गांड को अपना बनाना के लिए तड़प रहे थे।

फिर अंकल ने अपना लंड मेरी मम्मी की गांड के छेद पर रखा और एक झटका दिया। तभी मैंने देखा कि अंकल का लंड मेरी मम्मी की गांड के छेद में इतनी आसानी से नहीं जाने वाला था। फिर उन्होंने लंड को बाहर निकाला और उस पर थोड़ा तेल लगाया और फिर दोबारा सेट किया और फिर एक जोर का धक्का लगाया और फिर लंड गांड के छेद में चुपचाप चला गया फिर उन्होंने अपना हाथ बेड पर रखा और फिर पूरी ताक़त से एक और झटका दिया। तभी मम्मी जोर से चीख पड़ी उनकी चीख इतनी तेज थी कि कान के पर्दे फाड़ दे। फिर मैंने देखा कि अंकल का पूरा लंड मेरी मम्मी की गांड के छेद में चला गया था। तभी अंकल ने अपनी कमर को हिलाना शुरू किया और मेरी मम्मी की गांड मारने लगे। अंकल के हर झटके पर मम्मी के चूतड़ हिल जाते थे।

Loading...

फिर मम्मी अह्ह्ह्ह माँ मरी में अह्ह्ह कर थी और चूतड़ उठा उठाकर अंकल का साथ दे रही थी। अंकल पूरी ताक़त से मेरी मम्मी की गांड मार रहे थे। थोड़ी देर बाद अंकल मम्मी के ऊपर लेट गये और अपनी कमर हिलाने लगे और धीरे धीरे मेरी मम्मी की गांड मारने लगे। उन्होंने अपने दोनों हाथ आगे कर दिए और मेरी मम्मी के बूब्स पकड़ रखे थे और जानवरों की तरह मसल रहे थे। फिर मैंने देखा कि मेरी मम्मी ने अपने दोनों हाथ पीछे कर लिए थे और अपने चूतड़ को फैला लिया था जिससे अंकल को मम्मी की गांड चोदने में थोड़ी आसानी हो रही थी। तभी कुछ देर बाद अंकल थक गये और उन्होंने पूरे 15 मिनट तक मेरी मम्मी की गांड मारी और मैंने देखा कि अंकल ने अपना वीर्य मेरी मम्मी की गांड के छेद में ही गिरा दिया था और दोनों नंगे बेड पर लेट गये थे और अंकल बहुत देर तक मेरी जवान मम्मी के जिस्म के साथ खेलते रहे। फिर मम्मी ने कहा कि अब में जा रही हूँ और फिर मम्मी घर आने लगी में भी मम्मी के आने से पहले घर आ गया और अपने बेड पर आकर सो गया था ताकि मम्मी को ये ना पता चले कि मैंने सब कुछ देख लिया है।

फिर उस दिन के बाद से अंकल मेरे स्कूल जाने के बाद मम्मी को जी भरकर चोदते है। मेरी मम्मी को एक मजबूत लंड चाहिए और अंकल को मम्मी की प्यासी चूत.. दोनों एक दूसरे की प्यास बुझाते रहते है और में बस चुपचाप उनकी चुदाई देखता रहता हूँ।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


aunty ne apni saheli ke bete se gand marwai storyबहन कि चुदाई कहानी 2015Bhut baar Chudwate dekha hindi sex storychudai kahaniya hindidehati chalu auraton ka ladko ko patane ki majedar kahaniyaदीदी की चुदाई करके चूत का भोंसड़ा बनाया मालिश के बहानेदूध दिखा रही है दूध दिखा के पति का लंड चूसा और गांड में डलवायाचालाक बीवी ने काम बनवाया 2 | Kamukta.comwww.kamukta.com › chalak-biwi-ne-kaa...अँधेरे में अदला बदली में सेक्स का मजाkhel khel me maa ne chodna sikhayahinid sex storiys sasur nd bahuहिन्दी दिदिबहिनी भ।ई sexxअपनोँ मैं सैक्स कहानियांसँगी बहन की कहानी चुदाई वालीbhai ko chodna sikhayaखेत में सलवार खोलकर पेशाब टटी करने की सेक्सी कहानियांgand sungne ki storyi combadi bhan ne chodna sikhaya sex storyhindyma mujhe pisaab pilao sex kahanisex story download in hindi अपनी बीवी के साथ चार लोगों के साथ सुहागरात मनाई xxx.com वीडियोfree sex stories in hindipurani soniyashi mp3मम्मी कि चुदाई कहानियाँमम्मी की चूदाई की कहानियॉसाली को मालिश करवा के चोदाnewhindesexstoreभैया मैं तुम्हारी गांड मरुँगाkamuka storyमाँ ने चुदवाया न समझकर कहानीsaxy story hindi meMeri patni chudaked hai sexy storyhinde sex storekamuktha comma bahan ki chudai dekhane k baad maine bho chudai kiबुड्डा बुड्डी की चदाईsxe store handeशादी में बहु को गलती से चोद दिया सेक्स स्टोरीdraiver ke sath boobs sex in hidi aunty ne chut marni sikhaya storyrubeena ki chudae umesh ne storyhindi sexy setoryबहन की सुहाग रात अपने आँखो से देखाSexy hindi kahani dewali par dost ki biwi ko chodaशादी के दिन माँ ने सुहागरात सिखाइआटी साडी फिसल रही है निकाल दो चोदन कहानीमामी को गालियां दे दे कर गंदी चुदाई की कहानियाँsexy story com in hindiठंड की रात में सबको रजाई के अंदर हाथ डाल कर चोदाटटी लगी गाड खाई कहानीDidi.ke.kapde.utare.sotesamya.xxxसेकशी कहानी46sal ki nani ne nati ko bulakr sexsi sachi kahani छत पर चुदाई की कहानियाhttps://venus-plitka.ru/pokemonporncomics/mummy-ki-saheli-ko-choda/चुदाने का आदत बिबिRandi didi or chudakkad abbu or meपैसा खातिर ममी ने चोदवायाXxxjawan.bhbhe.ke.chodai.ke.kahanyadesi hindi sex kahaniyanताबड़तोड़ चुदाई से बहुत बुरा हाल मम्मी चुदी बेटी के ससुर से चिल्लाईमम्मी अंकल से सेक्सी सेक्सी बातें करके चुदवा रही थी स्टोरीउठाकर मूतने बैठ गईननद भाभी का जोश । Sexyमम्मी कि अदला बदली करके सेकसboss ne meri biwi ko sand ki tarAh choda sex story hindiFultu hindi lengvej cudai futu dresup videoभाई को पेशाब पिलाकर गाड मरवाई कहानीsexe.kahaneya..didi.ka.dod.piya.बारिश मे बहन भाई 2015 का चोदाईwww hind sex stroymar jaungi sahab chudaiसेकसी कहानी कोचिग मे लङकी को पटाकर चोदा ऊसके घर पेBadi bahan ka doodh piya Raju xxx Hindi storiesbhai mujhe aur mummy ko bhakabhak chodta hai ek sath kahanisexy stoeyमरी ओर अंकल की सेक्स की लबी कहाणीbegani shadhi mein bhin ko chodha sex storees xxxभाई को फुसलाकर चुदी कहानीkhet me bahu ko apni tange failaye chudwata dekhमुझे निद मे चोदा कहाणीMaine meri biwi ko bithaya kote par hindi sex storysexy story com in hindiगुंडे से चुदाई कहानीBadi didi aur maa ka doodh piya chudai kahaniratme bhabiki gand mari kahani