एक भूल ने रंडी बना दिया

0
Loading...

प्रेषक : कुमार …

हैल्लो दोस्तों, आज में आप सभी को कामुकता डॉट कॉम पर जो यह कहानी सुनाने जा रहा हूँ यह एक लड़की पूनम की है जो कि मेरे साथ ही रहती है और वो मेरे साथ मेरी क्लास में पढ़ती है। दोस्तों मैंने उन दिनों उसको देखा तब मुझे लगता था कि वो बहुत ही ज्यादा दुखी उदास रहा करती थी और वो हमेशा थकी थकी भी लगती थी जैसे कोई रंडी पूरी रात सेक्स करके हो जाती है, उसकी हालत ठीक वैसी ही लगती थी। फिर मेरे मन में उसकी वो हालत देखकर सच जानने की इच्छा हुई। एक दिन मैंने उसके साथ बड़े ही प्यार से दो बातें करना शुरू किया और फिर मैंने उसको अपनी बातों में फँसाकर उससे पूछ ही लिया कि उसको ऐसा क्या दुख है? जिसकी वजह से वो इतना दुखी नजर आती है। फिर उसने भी ना जान मेरे अंदर ऐसा क्या देखा कि मुझे उसने अपनी कहानी को सुनाना शुरू किया और उस घटना के बाद से अब उसका पूरा जीवन एकदम बदल चुका था। फिर उसने मुझे बताया कि एक लड़का है, जिसका नाम रोहन है, वो मेरी ट्यूशन में मेरे साथ ही पढ़ता था और साथ में पढ़ते हुए कुछ महीने के बाद उसने मुझसे अपने मन की बात कहकर अपने प्यार का इजहार किया और वो दिखने में बहुत अच्छा लगता है इसलिए में भी उसको मना नहीं कर सकी और फिर हम दोनों रोज़ ट्यूशन के बाद बाहर कहीं घूमने जाने लगे थे।

अब मुझे वो और भी अच्छा लगने लगा था और मेरा उसको रोज़ रोज़ मिलने का मन ज़्यादा से ज़्यादा करने लगा था, इसलिए हमारा प्यार दिनों के साथ बढ़ता ही जा रहा था। अब अगर एक भी दिन में उससे नहीं मिलती तब मुझे ऐसा लगता था जैसे कि हमे मिले कई दिन हो गये है इसलिए हम दोनों एक दूसरे से ज़्यादा से ज़्यादा मिलने लगे थे। फिर जब भी वो मुझे कहीं जाने के लिए कहता तो में उसकी बताई हुई जगह पर उसको मिलने चली जाती और में उसके साथ अपना समय बिताने लगी थी ऐसा करने में मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। अब धीरे धीरे हम दोनों बातें करते हुए इतने खुले हो गए कि अब हम एक दूसरे से खुल्लम खुल्ला सेक्स की बातें भी करने लगे थे। अब मुझे उससे बात करना बहुत अच्छा लगता था और शायद उसको भी मेरे साथ अच्छा लगता था। हम अक्सर सेक्स की बातें एक दूसरे से करने लगे थे और पता नहीं कब मुझे सेक्स की बात करना बहुत अच्छा लगने लगा था, इसलिए अब जब भी में उसके साथ सेक्स की बातें करती, तब मुझे ऐसा लगता कि जैसे मेरे पूरे शरीर में कुछ कुछ हो रहा है और में उसके साथ सेक्स की बातें करने में और भी ज्यादा रूचि दिखाने लगी थी।

फिर एक दिन उसका जन्मदिन था और दोपहर के समय उसका मेरे पास फोन आया और वो मुझसे कहने लगा कि वो मुझसे मिलना चाहता था। फिर में जल्दी से तैयार हुई और अपनी ट्यूशन की कॉपी और किताब को उठाकर में अपनी मम्मी को झूठ कहकर कि आज मेरी ट्यूशन में एक टेस्ट है रोहन की बताई हुई जगह पर पहुंच गई। अब मैंने पहुंचकर देखा कि वो उस समय अपनी गाड़ी में आया हुआ था और फिर हम दोनों खुश होकर उसकी जन्मदिन की खुशी में एक होटल में लंच करने चले गये और वापस आते हुए उसने अपनी गाड़ी को एक ऐसे रास्ते के बीच में खड़ी कर दी, जहाँ पर कोई भी आता जाता नहीं था। फिर उसने मुझसे कहा कि पूनम में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ और में अब तुम्हारे बिना नहीं रह सकता और यह बात कहते हुए उसने मेरा एक हाथ अपने हाथ में ले लिया। अब में भी उसको मना नहीं कर सकी, जैसे ही उसने मेरा हाथ पकड़ा तो मुझे बहुत ही अच्छा लगा और फिर वो मुझसे प्यार की बातें करता हुआ धीरे धीरे मेरे सारे बदन पर एक बार अपने हाथ को घूमा चुका था। दोस्तों पहले तो मैंने सिर्फ उसकी बात पर इतना ज्यादा ध्यान देते हुए उसके हाथ के बारे में बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया। फिर मुझे कुछ देर बाद महसूस हुआ कि कुछ है जो मेरे सारे बदन पर बार बार चल रहा है और अब मैंने रोहन से कहा कि तुम यह क्या कर रहे हो? वैसे तो मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था, लेकिन फिर भी में उसको दिखाने के लिए उसको मना कर रही थी।

अब रोहन ने मुझसे कहा कि पूनम में आज अपने जन्मदिन पर तुमसे कुछ माँगना चाहता हूँ क्या तुम मुझे वो देना चाहोगी? मैंने उसको कहा हाँ में दूंगी तुम माँगो तो सही। अब रोहन ने कहा कि तुम मेरी कसम खाकर कहो कि तुम मना नहीं करोगी और वैसे भी अगर तुम मुझसे सच्चा प्यार करती हो और मेरे ऊपर तुम्हे विश्वास है, तब तुम बिल्कुल भी माना नहीं करोगे। अब मैंने उसको कहा कि हाँ ठीक है में बिल्कुल भी मना नहीं करूँगी तुम माँगो? रोहन मुझसे दोबारा पूछने लगा क्यों तुम सच कह रही हो ना पूनम? मैंने कहा कि हाँ में सच बोल रही हूँ। फिर रोहन ने थोड़ा झिझकते हुए कहा कि पूनम में तुम्हे बिना कपड़ो के देखना चाहता हूँ और में तुम्हारी उस कपड़ो के पीछे छुपी हुई सुंदरता को बहुत करीब से देखना चाहता हूँ प्लीज़ तुम मुझे मना मत करना? और मुझे भी उस समय पता नहीं क्या हो गया था? इसलिए में भी उसको मना नहीं कर सकी। अब मैंने हाँ कह दिया, उसके बाद उसने मेरे टॉप और जींस को एक एक करके उतार दिया। अब में उसके सामने सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थी, लेकिन उसने बिना देर किए मेरी ब्रा को भी उतार दिया और अब वो बड़े ध्यान से मेरे बूब्स को देखने लगा। फिर उसने अपने मोबाइल से मेरी कुछ तस्वीर भी ली और मुझे नहीं पता था कि जो वो सब मेरे साथ कर रहा था वो सब कार के पीछे वाले कांच में लगे वीडियो केमरा में टेप हो रहा था।

फिर उसने अपने भी सारे कपड़े उतार दिए, मैंने उसको कहा कि यह तुम क्या कर रहे हो? तुमने तो सिर्फ़ मेरे बदन को देखने के लिए कहा था, लेकिन अब तुमने अपने भी कपड़े क्यों उतार दिए? उसने कहा कि में तुम्हारे साथ नाइंसाफी नहीं करना चाहता कि तुम बिना कपड़ो के और में कपड़ो में अच्छा नहीं लगता। अब मैंने उसकी अंडरवियर की तरफ देखा तो उसका लंड बहुत बड़ा था और वो जोश में आकर पूरा तनकर खड़ा हुआ था, जैसे वो मेरी चुदाई पूरी करने के लिए तैयार हो गया था। फिर वो धीरे से मेरे पास आया और मेरे हाथ पर चूमते हुए वो कब मेरे मुहं तक और फिर कब मेरे होंठो तक पहुंच गया और मुझे पता ही नहीं चला। अब मुझे भी वो सब बहुत अच्छा लग रहा था, मेरा बदन भी धीरे धीरे गरम होता जा रहा था और अब मेरी चूत में तो मानो जैसे बहुत सारी चीटियाँ रेंग रही थी। फिर मुझे चूमते हुए ना जाने कब उसके हाथ मेरे बूब्स तक चले गए और मुझे तो यह भी पता नहीं चला कि वो मेरे बूब्स को और ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा था और मुझे भी उसके ज़्यादा मज़ा आने लगा था।

अब तो में भी उसका पूरा पूरा साथ देने लगी थी, वो एक बार मेरे सारे बदन पर किस कर चुका था और अब मेरे अंदर की वो आग बढ़ती ही जा रही थी इसलिए मेरे मुहं से तो अब सिसकियाँ निकलने लगी थी आहहहहा स्सीईईई फिर उसने मेरी पेंटी को भी निकाल दिया और अब उसने अपनी जीभ से मेरी चूत को चाटना शुरू कर दिया था। अब ज्यादा जोश की वजह से मेरे मुहं से सिसकियों के साथ साथ अब गालियाँ भी निकल रही थी में उसको बोल रही थी हाँ डाल दे बहनचोद डाल दे मेरी चूत में तू अपनी पूरी जीभ को डाल दे, चोद मुझे अपनी जीभ से, हाँ चोद दे मुझे अहहहहहा। अब में अपने एक हाथ से उसके लंड को सहलाने लगी थी। फिर करीब दस मिनट तक उसने मेरी चूत को बहुत मज़े देकर अपनी जीभ से चोदा। फिर उसने मुझसे कहा कि में भी उसके लंड को अपने मुहं में लेकर उसको चूसना शुरू करूं। अब मैंने उसके एक बार कहने पर ही उसका लंड अपने मुहं में लेकर चूसना शुरू किया, उसका लंड करीब सात इंच का था वो ज्यादा मोटा होने की वजह से मेरे मुहं में भी नहीं आ रहा था।

फिर भी मैंने मज़े लेकर उसके लंड को कम से कम दस मिनट तक चूसा और फिर उसने मुझे कार की सीट पर लेटा दिया और कहा कि में अपने दोनों पैरों को पूरा खोल लूँ जिसकी वजह से उसके लंड को मेरी चूत के अंदर जाने में कोई समस्या ना हो और मैंने भी ठीक वैसा ही किया, जैसा वो मुझसे कहता रहा। अब उसने अपनी कार के अंदर से वेसलिन की क्रीम निकालकर मेरी चूत पर लगाना शुरू किया और फिर अपना लंड मेरी चूत के मुहं पर रखकर उसको वो आगे पीछे करने लगा और फिर जो उसने एकदम से उसने मेरी चूत में अपने लंड को एक जोरदार धक्के से डाला। दोस्तों मेरी चूत तो मानो फट ही गई हो, उसके उस एक ही झटके में उसका आधा लंड मेरी चूत के अंदर चला गया था और में दर्द की वजह से मरी जा रही थी। में तड़पने लगी थी और में बड़ी ज़ोर से चिल्ला उठी और उससे कहने लगी बहनचोद मेरी चूत को फाड़ दिया तूने आह्ह्हह्ह अब तू बाहर निकाल ले अपने इस लंड को मेरी चूत से। अब उसने धीरे से अपने लंड को बाहर निकाला और मैंने देखा कि मेरी चूत से खून निकलने लगा था और में वो सब देखकर डर गई और मैंने उसको सुनाना शुरू किया और उससे कहा बहनचोद तूने तो मेरी चूत ही फाड़ डाली अब क्या होगा?

फिर रोहन बड़े प्यार से बोला जान मुझे कुछ करने तो दे और यह कहकर उसने मेरे बूब्स को अपने मुहं में लेकर चूसना शुरू कर दिया और थोड़ी देर बाद मुझे भी अच्छा लगने लगा और फिर उसने अपना लंड मेरी चूत के मुहं पर लगाकर जो एक जोरदार धक्का मारा। दोस्तों उसकी वजह से मेरी तो जैसे जान ही निकल गई और जब उसका पूरा लंड मेरी चूत में चला गया में और भी ज़ोर से चिल्ला उठी। अब उसने एक बार फिर से मेरे बूब्स को ज़ोर ज़ोर से चूसना शुरू कर दिया और मुझे कुछ राहत मिलने लगी। फिर मुझे थोड़ी ही देर के बाद सब कुछ ठीक सा लगने लगा और मुझे अपनी चूत की चुदाई करवाने में पूरा पूरा मज़ा आने लगा था। फिर रोहन ने मेरी चूत में अपने लंबे लंड से 15-20 धक्के और लगाए जो कि बहुत ही तेज थे और में उसकी छाती से लगकर झड़ गई, लेकिन रोहन तो अभी भी धक्के देने में लगा हुआ था। दोस्तों मेरे झड़ने के बाद भी मेरे मुहं से सिसकियाँ निकलना बंद नहीं हुई थी अहहहा ओह्ह्ह रोहन मेरी जान चोदो और ज़ोर ज़ोर से चोदो तुम मुझे आज मेरी चूत को फाड़ ही दो ऊउफ़्फ़्फ़्फ़ और फिर करीब पांच मिनट के बाद ही रोहन जोरदार धक्के लगाकर मेरी चूत में ही झड़ गया उस समय में तो जैसे जन्नत में थी। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

Loading...

फिर हम दोनों ने जल्दी से अपने कपड़े पहने और वहां से चलकर फिर पास वाले एक रेस्टोरेंट में जाकर बैठ गये, हमने ठंडा पिया और उसके बाद हम दोनों अपने अपने घर चले गये। दोस्तों अपने घर जाकर मुझे बहुत ख़ुशी भी थी और डर भी लग रहा था कि कहीं कुछ हो ना जाए? फिर मुझे याद आया कि रोहन ने उस समय मेरी कुछ तस्वीरे ली थी और कहीं वो उनका कुछ ग़लत फ़ायदा तो नहीं उठाएगा? लेकिन मुझे रोहन पर पूरा पूरा भरोसा था कि वो मेरे साथ कभी भी ऐसा नहीं करेगा। फिर में रात को सोते हुए खुश होकर यह सोच रही थी कि चाहे कुछ भी हो आज चूत मरवाने में मुझे बहुत ही मजा आया और अब मुझे पता चला कि सभी को सेक्स करना इतना अच्छा क्यों लगता है? फिर में उस अगले दिन का इंतजार करने लगी कि कब रोहन मुझे दोबारा बुलाए और वो एक बार फिर से मेरी चूत को ऐसे ही मारे। दोस्तों सच कहूँ तो मुझे एक बार अपनी चूत को मरवाकर अब अपनी चूत को मरवाने का नशा सा हो गया था। फिर दो दिन बाद रोहन का फोन आया और उसने मुझे अपने घर पर बुलाया था।

उस समय उसके सभी घरवाले कहीं बाहर गये हुए थे और वो उसी रात को वापस भी आने वाले थे। अब में जल्दी से तैयार होकर उसके घर के लिए चली गई और वहां पर जाते ही रोहन ने मुझे अंदर लेकर घर का दरवाजा बंद करके मुझे पीछे से पकड़कर अपने बेड पर फेंक दिया और वो मेरे ऊपर लेटकर बिना रुके मुझे किस लेने लगा, मानो जैसे वो पागल ही हो गया हो और वो कहने लगा ओहह मेरी जान पूनम में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ। फिर मैंने उसको कहा कि छोड़ो रोहन अरे यार में आज पहली बार तुम्हारे घर आई हूँ कम से कम तुम मुझे पानी तो पिला दो, तुम क्या आते ही सेक्स करने में लगे हुए हो? फिर रोहन मेरे लिए एक काँच के गिलास में पानी ले आया। अब मैंने पानी पीया और फिर जाकर हम दोनों बेड पर लेट गये और मैंने बेड के पास ही रखी हुई किताबों की सबसे ऊपर वाली किताब को उठाकर पढ़ना शुरू किया। उस किताब में एक सेक्स करती हुई लड़की की कुछ नंगी फोटो दिखी और उनको देखकर एक बार फिर से मेरी चूत में चुदाई का पानी छूट गया और मेरी चूत में रोहन का लंड लेने का विचार आने लगा। फिर रोहन के आते ही उसने वो किताब मेरे हाथ से लेकर एक तरफ उसको वहीं पर रख दिया और कहा कि पूनम मेरी जान क्या हम आज भी सेक्स कर सकते है?

फिर मैंने शरमाते हुए रोहन से कहा कि रोहन अब में तो बस तुम्हारी ही हूँ। जो भी तुम मुझसे कहोगे में वैसा ही करूंगी। अब रोहन ने खुश होकर कहा क्या सच तुम वही करोगी जो में तुमसे कहूँगा? मैंने उसको कहा कि हाँ में वही सब करूँगी और फिर रोहन ने धीरे से मेरे कान में कहा कि वो आज मेरी गांड मारना चाहता है। अब में उसके मुहं से यह शब्द सुनकर एक मिनट के लिए तो बिल्कुल चुप हो गई, फिर मैंने उसको कहा कि कल तुमने मेरी चूत मारी थी उसकी वजह से अभी तक मेरे नीचे के हिस्से में दर्द खत्म नहीं हुआ जो तुम्हारे सात इंच के लंड के अंदर जाने के बाद हुआ था और आज तुम मेरी गांड मारने के लिए कह रहे हो, आज तो मेरी गांड पूरी ही फाट जाएगी, तुम्हारा यह इतना बड़ा लंड कैसे जाएगा? नहीं बाबा नहीं मुझे ऐसा नहीं करना। अब रोहन ने मुझसे कहा क्या तुम्हे मेरे ऊपर विश्वास नहीं है? मैंने कहा कि हाँ है। रोहन ने कहा तो फिर क्या डरने वाली बात है? चलो अब तुम जल्दी से अपने सारे कपड़े उतरो।

अब मैंने उसके कहने पर जल्दी से अपने सभी कपड़े उतार दिए और में पूरी नंगी होकर रोहन के सामने लेट गई और रोहन ने भी अपने सभी कपड़े तुरंत ही उतारकर वो भी मेरे सामने नंगा होकर लेटा हुआ था। फिर रोहन ने अपना लंड मेरे मुहं में डाल दिया, उसका सारा लंड मेरे मुहं में जा चुका था और वो अब मेरे हलक को छू रहा था जिसकी वजह से मेरी साँसे बंद होने वाली थी और फिर उसने मेरे मुहं से अपना लंड बाहर निकाल दिया और मुझसे कहा कि में अपनी गांड में खुद ही सामने रखी क्रीम को लगा लूँ जिसकी वजह से गांड मरवाते हुए ज्यादा दर्द ना हो। फिर में गई और क्रीम का डब्बा उठाकर ले आई और में रोहन को कहने लगी कि यह लो तुम ही लगा दो मेरी गांड में और फिर रोहन के मुहं की तरफ अपनी गांड को खोलकर कुत्ते की तरह में खड़ी हो गई। फिर रोहन ने बहुत सारा क्रीम लेकर मेरी गांड में लगा दिया और अपने लंड पर उसने सरसों का तेल लगा लिया और अब अपना लंड उसने मेरी गांड के मुहं पर रखकर धीरे से अंदर डालना शुरू किया। दोस्तों इतनी सारी लगे क्रीम और तेल उसके लंड पर लगे होने की वजह से लंड फिसलता हुआ झट से मेरी गांड में चला गया।

अब मुझे ऐसा लगा कि मानो जैसे कोई बहुत ही बड़ा डंडा मेरी गांड में जो बहुत ही गरम है उसने जबरदस्ती अंदर डाल दिया हो और मेरी गांड में तो जैसे ज्वालामुखी फट गई हो, इतना दर्द हो रहा था। अब मैंने उस दर्द की वजह से ज़ोर से चिल्लाकर रोहन से कहा कि बहन के लंड, कुत्ते तू आज क्या मेरी गांड को फड़ेगा? आह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अब तू निकाल बाहर अपना लंड बहनचोद। फिर उसने पीछे से ही धीरे धीरे मेरे बूब्स को मसलना शुरू किया और वो धीरे धीरे अपने लंड को अंदर बाहर करने लगा, करीब दस मिनट के बाद मुझे भी अच्छा लगने लगा और मुझे भी मज़ा आने लगा और फिर रोहन ने बीस मिनट के बाद कई जोरदार धक्के के बाद अपना सारा माल मेरी गांड में ही छोड़ दिया और वो मुझे सीधा करके मेरे ऊपर लेट गया कुछ देर के बाद उठकर उसने मेरे सारे बदन पर कल की तरह ही चूमना शुरू किया और फिर से मेरी चूत में अपने लंड को डालकर धक्के मारने शुरू किए और इस बार उसने मेरे बूब्स की चुदाई भी की और अपना सारा माल मेरे मुहं में ही छोड़ दिया और में भी मज़े मज़े में उसका सारा माल पी गई। अब भी रोहन ने मुझे नहीं छोड़ा और शाम को फिर उसने दो बार मुझे जमकर चोदकर ही अपने घर भेज दिया।

दोस्तों उस दिन और पूरी रात को मेरी चूत और गांड में बड़ा तेज दर्द हो रहा था, इसलिए मैंने अपने कमरे में रात को अपनी चूत और गांड पर दर्द कम होने की दवाई लगाकर मुझे बिना पेंटी और पजामा अपने दोनों पैरों को पूरा फैलाकर सोना पड़ा। फिर रोहन का कुछ दिनों के बाद मेरे पास फोन आया और उसने मुझे अपने एक दोस्त राज के घर पर बुलाया और में उस दिन भी बिना कुछ सोचे समझे उसके बताए हुए पते पर चली गई। फिर वहां पर पहुंचकर मैंने देखा कि रोहन के दो दोस्त जिनका नाम राज और रवि है वो तीनों पहले से ही बैठकर मेरा इंतजार कर रहे थे। अब मैंने रोहन से कहा कि तुमने मुझे यहाँ पर इन सभी के साथ क्यों बुलाया? उसने कहा कि तुम्हे कुछ दिखाना है? और उसने फिर राज के कंप्यूटर में एक सीडी को लगा दिया और जैसे ही उसने उसको शुरू किया। फिर वो द्रश्य देखकर मेरी ऊपर की सांस ऊपर और नीचे की सांस नीचे ही रह गई उसमे वो सब कुछ था जो हम दोनों ने साथ में मिलकर दो दिनों पहले जो सेक्स किया था। अब मैंने देखा कि रोहन ने जब मेरी पहली बार सील तोड़ी थी और जब उसने मेरी गांड भी पहली बार मारी थी, उसमे वो सब कुछ था और वो सब देखने में ऐसा लग रहा था जैसे कि मैंने ही रोहन को कहा हो वो सब करने के लिए।

अब उस समय मेरे माथे पर से पसीने छूटने लगा था में वो सब देखकर बहुत चिंतित होकर अब डरने भी लगी थी। फिर उसी समय रोहन ने अपना रुमाल मुझे देते हुए कहा कि तुम डरो मत हम यह सीडी किसी को नहीं दिखाएगे। अब मैंने उसको कहा कि प्लीज़ रोहन यह सीडी तुम किसी को मत दिखाना, नहीं तो में किसी को मुहं दिखाने के लायक भी नहीं रहूंगी, प्लीज़ रोहन में तुम्हारे सामने हाथ जोड़ती हूँ प्लीज और अब में रोहन के सामने ही रोने लगी। अब रोहन ने मुझे चुप करवाया और मुझसे कहा कि तुम इतना दुखी मत हो, हम यह सीडी किसी को नहीं दिखाएगें, लेकिन तुम्हे वहीं सब करना होगा जो हम तुमसे अब आगे से कहेंगे। अब मैंने उसको कहा कि जो तुम मुझसे कहोगे में वो जरुर करूंगी, लेकिन तुम यह सीडी किसी को मत दिखाना प्लीज। अब वो बोला हाँ ठीक है तो में तुम्हारे साथ अभी यहीं पर सेक्स करना चाहता हूँ राज और रवि के सामने में तुम्हारी चुदाई के मज़े लेना चाहता हूँ। अब मैंने उसको कहा कि प्लीज रोहन तुम ऐसा मत करो तुम तो मुझे बहुत प्यार करते थे और फिर तुम आज अपने प्यार की नुमाइश ऐसे सभी के सामने करोगे क्या? मैंने ऐसे ही कई बातें रोहन से कही और उसको मैंने बहुत मनाने की कोशिश की।

फिर उसने मुझसे गुस्से में कहा कि बहन की लोड़ी क्या तेरी समझ में नहीं आता? जो मैंने तुझे एक बार कह दिया वो चुपचाप कर ले नहीं तो यह सीडी में तेरे ही घरवालों को सबसे पहले दे दूँगा और फिर देख लेना क्या होगा? चल बहन की लोड़ी उतार अपने सभी कपड़े जल्दी से। फिर मुझे मजबूरन रोहन के साथ राज और रवि के सामने सेक्स करना पड़ा, रोहन के दोस्त ने उसकी भी रिकोर्डिंग कर ली और फिर उन्होंने मुझे एक नकली लंड दिया और मुझसे कहा कि चल एक ऐसे वीडियो बनवा जिसमे तू अकेली ही इस नकली लंड से सेक्स कर रही हो चल रंडी जल्दी से कर हमारे पास टाइम नहीं है। फिर मुझे वो सब भी करना पड़ा और उन्होंने उसकी भी वीडियो बना ली और फिर रोहन तो मुझे रोज रोज ही कहीं ना कहीं बुला लेते और वो मेरे साथ जी भरकर सेक्स करता और फिर उसके बाद वो चला जाता। एक दिन उसने मुझे फिर रवि के घर बुलाया और मुझसे कहा कि आज में नहीं राज और रवि तुम्हारे साथ सेक्स करेंगे और जगह बची तो में भी कहीं ना कहीं अपना लंड डाल ही लूँगा।

दोस्तों उसके मुहं से यह सब सुनकर मेरे तो पैरों के नीचे से जैसे ज़मीन ही सरक गई हो और फिर मुझे उसने उन दोनों का लंड अपने कपड़े उतारकर एक साथ चूसने को कहा और उनमे से रवि का लंड तो रोहन से भी ज़्यादा बड़ा था और वो कह रहा था जल्दी करो ऊह्ह्ह रंडी जल्दी करो। फिर मैंने उन दोनों का लंड चूसा और राज फिर जल्दी ही हटकर मेरी चूत में उसने अपना लंड डालकर तेज धक्के देकर चुदाई करते हुए उसने अपना वीर्य मेरी चूत में डालकर वो झड़ गया। फिर उस रवि ने तो मानो मेरी जान ही निकाल दी, उसके लंड के मेरी चूत में जाते ही मुझे लगा कि मेरी चूत बस अब फटने ही वाली थी और फिर उस बहन के लोड़े ने मेरी गांड भी मारी और अपना सारा वीर्य मेरी गांड में ना छोड़कर मेरे मुहं में ही छोड़ दिया। फिर उसने मुझे वो उसका सारा वीर्य अपने गले से नीचे गटकने के लिए कहा और मैंने भी ठीक वैसा ही किया, बस और क्या था? दोस्तों अब यह तीनों हर दो तीन दिनों बाद मुझे एक दूसरे के घर बुलाते और चुदक्कड़ रंडी की तरह अपनी मनमानी करके वो मेरी जमकर चुदाई करते, कभी वो कुतिया की तरह तो कभी किसी और कभी किसी दूसरी तरह से वो कभी मेरी गांड मारते और कभी मेरी चूत में अपने लंड को डालकर किसी रंडी की तरह मेरी चुदाई करते और कभी वो मेरे मुहं में अपने लंड को डालकर मेरी चुदाई भी करते। उन तीनों ने मिलकर मुझे एक रंडी अपनी रखेल बनाकर अपने साथ रखा और में उनके साथ अपनी चुदाई करवाती रही। दोस्तों यह थी मेरी एक सीधी-साधी लड़की से अब एक अनुभवी रंडी बनने की कहानी ।।

Loading...

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


sex hindi sexy storyPoker khel kar biwi ki adla badli xxx storyBarsaat ki Maa Barsaatchudaihendhi sexbhane ki Chuday jabrdast storirikshewale s chudaiमेरी वाईप बङी सेकसी विङियौदीदी रात में आकर मेरे लंड को हिलाती हैKhusbu ki chudai college me.sexy story in hindi fontmummy mere lund ki chamdiघर में सलवार खोलकर पेशाब पिलाने की सेक्सी कहानियांनानी मौसी ke sath widhwa देसी सेक्स कहानीRat May chudi chatpaysexy storry in hindiponra adease sex videos comमाँ या पिताजी ke चुदाई dhekh kr chaci मुझ से chudimummy ki barbadi cgudai storymaa gajer mard se chudaya sex storydidi ka doodh piya Hindi porn storys.comभाभी को बीवी समझ कर चोद दिया अँधेरे में कहाँनीnewhindesexstoresoe hue buaa ki chudae ki khaniSexkahanimammipapaस्टूल पर चढ़ी माँ की चुत देखीमाँ के रसीले आममा को चोद चोद कर खुस कियाभाइ ने बहन को खडे करके चौदाbhan ko modal bannane ke bhanne se chodadehati maa ka balauj ka batam khola aor duhdh piya dhire dhire sexi kahani hindisex.sesur.bhou.viedo.छिनाल मादरचोद की गांड मारीहोली का रंग- माँ की चूत के संगHindi sex story vangi Ko sadiअन्कल के साथ पहिले चुदाइsas samdhan sex katha in wordsConan lagakarsexy videosex vidio hindy me btayeकलपना की चूत में रोज़ानाचिकनीपडोसनmeri tichar ne muje nga kr diya sexystorenind m behan ki chuchi chusi storymaa aur mausi ke sath number ka khel maa ne peshab piyaChudakad Sasur Hindi Sex Stori Audeoमजे ले के चुदवाऊँगी.Chachi ki chut me nind ki goli dekar loda diya kamukta sexy story.comचाची को चोदा दर्द का बहाना करकेखेत में सलवार खोलकर पेशाब पिलाने की सेक्सी कहानियांHindisexkahanibaba.comchut dekar bete ki nokari bachai maa neसेकशी कहानीsexy stories in hindi for readingsadisuda bahin ke sexy stroy hinderupali ki aap beeti sex story3 बच्चेँ माँ चदाईसांड जैसा लण्ड से चुदाई वीडियोMummy Ki chut aur do bade kale lundsex st hindiDhanya wali kaise chudwati hai/शुभारम्भ sex stories in hindinandoi ne choot chodkar apni pyaas bujhai storyक्सक्सक्स पोर्न बरोथेर गालियाँ देकर पापा ने मेरी बुर छोडा हिन्दी में गाली देकर छोड़ै की कहानियाँHinde sex storesनौकरानी को पैसे देकर जबरदस्ती सेकसीChuddakad Sasur Bahu Hindi Sex Stori Audeoजंगल मे सेक्सी कहानीया पिकनिक के समय हि न्दी मेsexy stoy in hindiSaas ko jabardasti choda condom pahanketeran Me sex com iraj wapcomdidi aaj raat yhi rukne wali h sex story पेटीकोट वाली आंटी कि चुदाईsaxy xxxबीवी सास दोनों की साथ मे चुदाई कहानीसास दामात कि चुदाई कि काहानीपीछे नहीं घुसेगा जीजूhindi sex story comsecretry ne khub maje me chudwayi mujhseदीदी बोली भाई से चोद मुझे सालेsex story of hindi language